• Sat. May 18th, 2024

धोखाधड़ी के मामले में दो लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार,गिरफ्तार अनीस अहमद है जनप्रतिनिधि का करीबी

ByIsrar

May 6, 2024

Imran Deshbhakt: रुड़की।1.65 करोड़ की जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार कर बेचने के मामले में पुलिस ने धोखाधड़ी करने वाले दो युवकों को गिरफ्तार किया है।गिरफ्तार युवकों में एक अनीस अहमद को नगर विधायक का प्रतिनिधि बताया गया है।एक पूर्व सैनिक अधिकारी से भूमि की धोखाधड़ी मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।रुड़की कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक एसके सकलानी के अनुसार एक पूर्व सैनिक जगदीश सिंह नेगी,फरीदाबाद,हरियाणा निवासी ने तहरीर देकर बताया था कि वह मूल रूप से तला पट्टी,सयुन तहसील,पौड़ी गढ़वाल के निवासी है,जिनकी मलकपुर,लतीफपुर रुड़की में 25 जनवरी 2005 को खरीदी गई 1.65 करोड रुपए की भूमि है।आरोप है कि 1 अक्टूबर 2021 को एक परिचित का फोन आया,जिन्होंने बताया कि फर्जी दस्तावेजों को तैयार कर उनकी जमीन को बेचा गया है।11 मई 2022 को इस मामले में मुकद्दमा दर्ज हुआ।इंस्पेक्टर आरके सकलानी ने बताया कि अनीस अहमद गांव कान्हापुर,रुड़की का निवासी है और उमेश चंद्र उर्फ निंदर निवासी गांव फतेहपुर जाट,जिला सहारनपुर,उत्तर प्रदेश को जमीन धोखाधड़ी करने के मामले में गिरफ्तार किया गया है।पुलिस टीम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक अभिनव शर्मा,उप निरीक्षक शशि भूषण जोशी,विशेष अनुसंधान शाखा के उप निरीक्षक रंजीत खनेडा,दीप और हेड कांस्टेबल नूर हसन शामिल रहे।

*विधायक प्रतिनिधि का पूर्व में भी विवादों से रहा नाता*

आरोपित अनीस अहमद का लंबे समय से विवादों से नाता रहा है,उसके खिलाफ रुडकी कोतवाली में मारपीट और धोखाधड़ी के पहले भी मुकद्दमे दर्ज हैं।नगर विधायक के साथ फोटो खिंचवाकर उसे सोशल मीडिया पर डालने का अनीस अहमद को बड़ा शौक है तथा अपनी ब्लैक गाड़ी पर भाजपा का झंडा लगाकर अक्सर लोगों पर रोब डालने के लिए भी वह हमेशा चर्चाओं में रहता है,हालांकि संबंधित पार्टी के प्रमुख पदाधिकारियों ने उसके पार्टी के सदस्य होने से इनकार किया है तथा कहा कि हाल ही में लोकसभा चुनाव में वह सक्रिय भूमिका में नजर आया था।

*पैरवी के लिए कई समर्थक पहुंचे कोतवाली*

अनीस अहमद के गिरफ्तारी की सूचना मिलने पर कई समर्थक कोतवाली पहुंच गए,जहां उन्होंने पुलिस से अनीस अहमद को छुडवाने की पैरवी की,लेकिन कोतवाली पुलिस ने मामला एसआईएस के पास होने तथा पर्याप्त सबूत मिलने पर गिरफ्तारी का हवाला देते हुए सभी समर्थकों को कोतवाली से बैरंग लौटा दिया,उधर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए निवर्तमान मेयर गौरव गोयल का कहना है कि अनीस अहमद की गिरफ्तारी से सिद्ध हो गया है कि ऐसे कार्यों में नगर विधायक सत्ता की आड़ लेकर अपने लोगों को सह दे रहा है।इस प्रकार के कार्यों से नगर की छवि धूमिल हो रही है और रुड़की के निवासियों को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ रहा है।उन्होंने कहा कि इस मामले को वे मुख्यमंत्री तथा राज्यपाल के समक्ष रखेंगे ।

By Israr

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *