• Mon. Mar 4th, 2024

ज्योतिष गुरुकुलम में श्री राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा की भव्य महोत्सव के शुभ अवसर श्री राम कथा का भव्य आयोजन किया

ByIshrar

Jan 16, 2024

रुड़की।ज्योतिष गुरुकुलम में श्री राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा की भव्य महोत्सव के शुभ अवसर श्री राम कथा का भव्य आयोजन किया जा रहा है।कथा के तीसरे दिन कथा व्यास आचार्य रमेश सेमवाल महाराज जी ने कहा कि भगवान का अवतार संसार के कल्याण के लिए होता है,जब संसार में आसुरी शक्तियों का प्रवेश होता है,तब-तब धरती मां भगवान को पुकारती है।धरती मां की करुणा में पुकार सुनकर भगवान अवतार ग्रहण लेते हैं।श्री राम का अवतार भी राक्षसी मनोवृति का नाश करने के लिए हुआ।दशरथ पुत्र कौशल्या नंदन श्री राम का जन्म भारत भूमि में हुआ।राक्षसों का नाश करने के लिए भगवान भक्तों की करुणा में पुकार सुनकर जन्म ग्रहण करते हैं।अवतार लेते हैं।राक्षसों का अंत करते हैं।भगवान के सारे अवतार भारत भूमि होते हैं,क्योंकि भारत भूमि ऋषि मुनियों की भूमि है।तपस्वी की भूमि है।भक्तों की भूमि है।परम पवित्र भूमि है।भारत भूमि जैसा विश्व में कुछ भी नहीं है।भगवान श्री राम ने रावण की शक्तिशाली साम्राज्य का नाश किया।रावण विद्वान व भगवान शिव का भक्त था,लेकिन अहंकारी था।दुष्ट स्वभाव के कारण ऋषि-मुनियों को परेशान करता था।यज्ञ व अनुष्ठान नहीं होने देता था।ऋषि मुनियों की पुकार पर भगवान ने रावण का अंत किया।श्री सीता मां का अपहरण कर रावण ले गया।भगवान श्री राम ने श्री हनुमान जी की सहायता से उसका अंत किया।भगवान श्री राम का अवतार भक्तों के उद्धार के लिए हुआ और राष्ट्र के कल्याण के लिए हुआ।अयोध्या नगरी में भगवान श्री राम ने जन्म लिया सारे संसार का कल्याण किया,जब-जब संसार में धर्म की हानि होती है अधर्म बढ़ता है और अहंकारी लोग भगवान के भक्तों को कष्ट देते हैं तो भगवान अवतार ग्रहण कर सभी भक्तों के कष्ट का निवारण करते हैं।14 वर्षों तक वनवास भगवान श्री राम को मिला।उन्होंने संपूर्ण राष्ट्र का कल्याण किया।भक्तों का कल्याण किया। आज कथा में भगवान श्री राम का जन्मोत्सव मनाया गया।भगवान श्री राम के साथ श्री लक्ष्मण,भरत,शत्रुघ्न का वर्णन भी कथा व्यास ने किया।कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बन रहा है।यह मंदिर युवा शक्ति को प्रेरणा
और संस्कार देगा।हमें भगवान श्री राम की मर्यादा का पालन करना चाहिए।कथा में संतकमल किशोर जी सहारनपुर से पधारे।इस अवसर पर सुलक्षणा सेमवाल,अदिति सेमवाल,पंडित नरेश शास्त्री, प्रवीन शास्त्रीरामलोचन शास्त्री,इंद्रमणि सेमवाल,अंकित शर्मा,विकास शर्मा,राधा भटनागर,चित्रा गोयल, मीनाक्षी शर्मा,मोनिका, कमला,बिमला,गौरव व सोनिया राणा मौजूद रहे।

By Ishrar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *