उत्तराखंडहरिद्वार

ज्वालापुर सहकारी गन्ना विकास समिति मे कांटा लगवाने की मांग को लेकर किसानों का धरना प्रदर्शन

ज्वालापुर सहकारी गन्ना विकास समिति मे कांटा लगवाने की मांग को लेकर किसानों का धरना प्रदर्शन

ज्वालापुर सहकारी गन्ना विकास समिति मे कांटा लगवाने की मांग को लेकर किसानों का धरना प्रदर्शन

ग्राम पंचायत भक्तनपुर आबिदपुर ग्राम इक्कड़ खुर्द के किसानों ने कांटा लगवाने की मांग को लेकर ज्वालापुर सहकारी गन्ना समिति मे किया विरोध प्रदर्शन किसानों ने सहकारी गन्ना विकास समिति अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि बी कांटा इक्कड़ खुर्द इक्कड़ कला मे लगना था जो पिछले वर्ष भी लगा हुआ था और जिस की मांग को लेकर ग्राम प्रधान हाजी मोहम्मद हारुन जिला पंचायत फुरकान अहमद हाजी शफकत हाजी मनसब यामीन असलम महबूब हुसन अली शहरूबान इरशाद मुनफेत इरशाद फुकरा भूरा आदि किसानों ने बी कांटा लगवाने की मांग की है ग्राम प्रधान हाजी मोहम्मद हारुन का कहना है कि गन्ना समिति के अधिकारियों की ओर से घोर लापरवाही बरती जा रही है और कोई सुनवाई नहीं हो रही है जिसमें किसानों का उत्पीड़न किया जा रहा है बी कांटा की मांग को लेकर आज भारी तादाद में किसानों ने गन्ना समिति ज्वालापुर में विरोध प्रदर्शन कर बी कांटा इक्कड़ इक्कड़ कला में लगवाने की मांग उठाई है। मोहम्मद हारून ने बताया कि वर्षों से बी काटा यही लगता आ रहा है और किसान अपना गन्ना इस कांटे पर देता आ रहा है लेकिन इस बार किसानों के साथ धोखाधड़ी कर और फर्जी साइन करके इस कांटे को दूसरी जगह लगवाया गया है जिससे किसानों के साथ धोखाधड़ी की गई है 60 वर्षों से लक्सर शुगर मिल को गन्ना देते आ रहे हैं लेकिन इस बार किसानों के साथ अन्याय किया जा रहा है जो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जल्द हमारी मांग को पूरा नहीं किया गया तो हुम् भारी उग्र आंदोलन करने पर मजबूर होंगे किसानों के धरना प्रदर्शन में भाजपा नेता नरेश शर्मा ने अपना समर्थन देते हुए गन्ना समिति अधिकारियों को तत्काल समस्या का समाधान करने को कहा है नरेश शर्मा ने कहा है कि किसानों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और किसान इस देश के अन्नदाता है इनकी मांगों को तत्काल स्वीकार कर समस्या का समाधान करें गन्ना समिति डीसीओ शैलेंद्र सिंह ने किसानों की समस्याओं को सुना और बताया कि इक्कड़ कला में जो सेंटर था उसको दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया गया है जिससे किसानों को बड़ी कठिनाइया हो गई है और अब बीच का रास्ता निकाल कर इस सेंटर को बीच में कहीं लगाया जाएगा ताकि दोनों तरफ से किसानों को सहूलियत मिल सके और जल्द ही कांटा लगवाने का आश्वासन दिया है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close